प्रतिक्रिया
no image avaliable

प्रस्तावना

वर्ष 1894 में कलकत्ता में आयोजित भारतीय चिकित्सा सम्मेलन में, ब्रिटिश मेडिकल जर्नल के संपादक एनेस्ट हार्ट ने उष्णकटिबंधीय बीमारियों के उद्घभव संचरण और उपचार हेतु की जाने वाली मूल जांच के लिए भारत में एक विशेष शोध संस्थान की आवश्यकता पर बल दिया था। एक प्रभावी प्रयोगशालाकेंद्रीय अनुसंधान संस्थान की स्थापना 1896 में स्वीकृत की गई थी। इस विचार को कार्यान्वित करने के लिए दिनांक 3 मई 1905 को संस्थान की स्थापना की गई।

अनिवार्यता

प्रारंभ में निम्नर्निदिष्ट के लिए सुविधाएं प्रदान करनाः -

  1. चिकित्सा और सार्वजनिक स्वास्थ्य हित की समस्याओं पर अनुसंधान कार्य
  2. वैक्सीन और एंटीसीरा का विनिर्माण
  3. मानव संसाधन विकास

एक राष्ट्रीय रेफरल केंद्र जिसमें सार्वजनिक स्वास्थ्य के संबंध में पूछताछ को निर्देशित किया जा सके के रूप में कार्य करना।


संस्थान द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाएं

1. उत्पादन

  • वैक्सीन
  • एंटी सीरा
  • नैदानिक ​​अभिकर्मक

2. निगरानी

  • पोलियो
  • इंफ्लुएंजा
  • जिका
  • कोविड

3. राष्ट्रीय केंद्र

  • साल्मोनेला और एस्चेरीचिया कोलाई

4. नैदानिक ​​सेवाएं

  •  रेबीज

5. चिकित्सा सेवाएं

  • पीत ज्वर और पोलियो टीकाकरण केंद्र
  • पशु काटने क्लिनिक
  • ओपीडी और आपातकालीन सेवाएं
  • नैदानिक ​​प्रयोगशाला

6. मानव संसाधन विकास

  • एमएससी सूक्ष्मजीव-विज्ञान
  • पीएच.डी. सूक्ष्मजीव-विज्ञान
  • इम्यूनोबायोलॉजिकल उत्पादन और पशु देखभाल  में प्रमाणपत्र पाठ्यक्रम
  • औद्योगिक प्रशिक्षण और प्रोजेक्ट
  • आईटीआई धारकों के लिए शिक्षुता

7. अन्य सेवाएं

  • पुस्तकालय
  • पशु सुविधा

शिकायतों का निवारण

शिकायतें लिखित या ऑनलाइन रूप में सीधे सार्वजनिक शिकायत पोर्टल pgportal.gov.in पर भेजी जा सकती है।

शिकायतें इस के लिए नियुक्त समिति को सभी प्रासंगिक दस्तावेजों के साथ अग्रेषित कर दी जाती है। शिकायतों पर 15 दिन के अंदर विचार कर लिया जाता है।


उत्पाद से संबंधित शिकायतें

उत्पादों को उच्च गुणवत्ता वाले मानकों को बनाए रखते हुए उत्तम विनिर्माण पद्धति के अनुसार निर्मित किया जाता है। किसी भी शिकायत को फार्मेकोविजिलेंस विभाग को भेजा जाना चाहिए जिसे संस्थान के गुणवत्ता आश्वासन विभाग द्वारा लिखित मानक प्रक्रियाओं के अनुसार निपटाया और जांचा जाता है।

नोडल अधिकारी

क्र.सं.

समारोह

नोडल अधिकारी का नाम

दूरभाष

1.

एईबीएएस उपस्थिति निगरानी

डॉ यशवंत कुमार, सहायक निदेशक

+919418012026

01792-272193

2.

जनसंपर्क अधिकारी

डॉ यशवंत कुमार, सहायक निदेशक 

+919418012026

01792-272193

3.

अध्यक्ष, इंटरनल कंप्लेंट कमेटी फॉर सेक्सुअल हरासमेंट ऑफ़ वीमेन एट वर्कप्लेस

समिति के सदस्यों का सम्पर्क विवरण (पी.डी.ऍफ़., 775 के.बी)

डॉ रोमिका लटावा,  सहायक निदेशक 

+918628988366

01792-273118

4.

संपर्क अधिकारी ओबीसी

डॉ वेधागिरी कुमारेसन, सहायक निदेशक

+919459497807

01792-272591

5.

अध्यक्ष, रेेगिंग विरोधी समिति

समिति के सदस्यों का सम्पर्क विवरण (पी.डी.ऍफ़., 314के.बी) (अंग्रेजी में)

डॉ शुभादीप महापात्रा, सहायक निदेशक

 

+919459779869

01792-273278

6.

छात्रावास वार्डन

डॉ रोमिका लटावा,  सहायक निदेशक 

+918628988366

01792-273118

7. अध्यक्ष, लोक शिकायत समिति डॉ अब्लेश गौतम, सहायक निदेशक 
+918988398818
01792-273245