प्रतिक्रिया
no image avaliable

विश्व स्वास्थ्य संगठन राष्ट्रीय पोलियो प्रयोगशाला, के॰अ॰सं॰, कसौली

राष्ट्रीय पोलियो प्रयोगशाला के॰अ॰सं॰ कसौली के अनुसंधान और प्रशिक्षण खंड में स्तिथ है । इस प्रयोगशाला की स्थापना विश्व स्वास्थ्य संगठन (डबल्यू.एच.ओ.)के सहयोग से 1995 में की गई थी । यह प्रयोगशाला पोलियो विषाणु की  सूक्ष्म-प्रारंभन स्तर(मोलिक्युलर लैवल) पर पहचान और निगरानी में संलग्न भारत की आठ राष्ट्रीय पोलियो प्रयोगशालाओं में से एक है ।

यह प्रयोगशाला हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, जम्मू - कश्मीर और चंडीगढ़ के लिए सेवाएँ देता है । यहाँ पर उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली और राजस्थान जैसे दूसरे राज्यों से भी कुछ नमूने प्राप्त होते हैं। यहाँ पर तीव्र श्लथ पक्षाघात (एकयुट फ्लेसिड पेरेलाइसिस) (ए.एफ.एल.) से पीड़ित 0-15 वर्ष की आयुवर्ग के बच्चों के अवरोधित मल के नमूने पोलियो विषाणु पृथ्थकीकरण और पहचान के लिए प्राप्त होते हैं। यह प्रयोगशाला विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों द्वारा स्थल आधारित पुनरीक्षण के माध्यम से विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा मान्यताप्राप्त है ।

नमूने प्राप्त करने का समय:

प्रयोगशाला में सभी कार्यदिवसों में प्रात: 8.00 बजे से साँय 4.40 बजे तक नमूने प्राप्त किए जाते हैं ।

नमूनों का परिवहन:

प्रयोगशाला में नमूनों को समुचित रूप से सील किए गए धारकों में कोल्ड चेन में लाया-ले जाया जाना चाहिए ।

संपर्क विवरण:

राष्ट्रीय पोलियो प्रयोगशाला
अनुसंधान और प्रशिक्षण खंड,
केंद्रीय अनुसंधान संस्थान,
कसौली(हि॰प्र॰)-173204(भारत)
दूरभाष:01792-273383
फ़ैक्स: 01792-272041

अधिक जानकारी के लिए कृपया www.searo.who.int(http://www. searo.who.int) पर जाएँ